डी०ए०वी० इण्टर कॉलेज के वार्षिकोत्सव समारोह में छात्र छात्राओं को सम्बोधित करते कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी।

0

काबिना मंत्री गणेश जोशी ने देहरादून स्थित करनपुर में डी०ए०वी० इण्टर कॉलेज के वार्षिकोत्सव समारोह में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। वार्षिकोत्सव समारोह में छात्र छात्राओं द्वारा कई सांस्कृतिक की मनमोहन प्रस्तुतियां भी दी गई।

इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने विद्यालय के वार्षिकोत्सव समारोह की बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए वार्षिक समारोह में उपस्थित होने पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा इस विद्यालय से उनका विशेष लगाव है। उन्होंने कहा आज जहां पर भी हूं उसमे इस डीएवी कॉलेज की अहम भूमिका रही है। उन्होंने कहा यह एक ऐसा समय है जब हम सभी मिलकर विद्यालय के पूरे साल के मेहनत और संघर्ष का समर्पण करते हैं और उसका उत्साह और सम्मान करते हैं। विद्यालय का फोकस गरीब बच्चों को अच्छी शिक्षा मिल सके, हमेशा इस तरफ रहा और पिछले कई दशकों से चल रहे इस विद्यालय में न जाने कितने विद्यार्थियों ने यहां से शिक्षा लेकर देश-दुनिया में नाम कमाया होगा। मंत्री गणेश जोशी ने कहा यह दिन हमें यह भी याद दिलाता है कि शिक्षा का महत्व क्या है और कैसे अपने लक्ष्यों की दिशा में ले जाने में मदद करता है। इस मौके पर सभी को यहां एक-दूसरे के साथ और अधिक मिलकर एक साथी बनकर और एक दूसरे के समर्थन में बढ़ चढ़ने के लिए प्रेरित करता है।


उन्होंने कहा आप सभी का साथ इस विद्यालय को उच्चतम शिखर पर पहुँचने में सहयोग और मार्गदर्शन लिए मौन ही नहीं, बल्कि अत्यंत मूल्यवान है। मंत्री गणेश जोशी ने आशा व्यक्त करते हुए कहा भविष्य में भी और अधिक समृद्धि, सफलता और खुशियों की ओर बढ़ने का संकल्प लेंगे। इस दौरान मंत्री गणेश जोशी ने जीवन में सफल होने के मूल मंत्र भी दिए। मंत्री ने अश्वेत क्रांति के जनक और नोवेल पुरस्कार विजेता नेल्सन मंडेला द्वारा कहा गया वाक्या का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि “शिक्षा सबसे शक्तिशाली हथियार है, जिसे आप दुनिया को बदलने के लिए उपयोग कर सकते हैं। मंत्री ने कहा कि हमारा देश भारत एनईपी -2020 को लागू कर इसका प्रत्यक्ष उदाहरण बना है। उन्होंने कहा हम सब जानते हैं कि शिक्षा पूर्ण मानव क्षमता को प्राप्त करने एक न्यायसंगत और न्यायपूर्ण समाज के विकास और राष्ट्रीय विकास को बढावा देने के लिए मूलभूत आवश्यकता है।


उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश की शिक्षा नीति में अहम बदलाव हुआ है। शिक्षा मंत्रालय ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू की है। उन्होंने कहा राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का मुख्य लाभ देश के लगभग 02 करोड़ बच्चों को फिर से शिक्षा की मुख्य धारा में लाना है। मंत्री गणेश जोशी ने कहा प्रदेश में मुख्ममंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में राज्य सरकार ने उत्तराखण्ड के उच्च शिक्षा प्रणाली में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को लागू कर दिया गया है। इस अवसर पर मंत्री गणेश जोशी ने शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षकों को भी सम्मानित किया।
इस अवसर पर कैंट विधायक सविता कपूर, प्रबंधक डीएवी इंटर कॉलेज कुमकुम स्वरूप, प्रधानाचार्य डा. ए.के. श्रीवास्तव, डीबीएस प्राचार्य वी.सी.पाण्डे, पूर्व प्रधानाचार्य ओ.पी.कुलश्रेष्ठ, पूर्व प्रधानाचार्य आर.के.सक्सेना, कार्यक्रम अध्यक्ष डा.एस.फारुख सहित विद्यालय के सभी गुरुजन एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed